ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
ads banner
अंतर्राष्ट्रीय मैचGlobal Chess Championship में छाई युवा पीढ़ी

Global Chess Championship में छाई युवा पीढ़ी

Global Chess Championship में छाई युवा पीढ़ी

Chess.com की Global Chess Championship के दूसरे दिन शतरंज के इतिहास के प्रतीक और आने
वाले champions के बीच काफी शानदार मुकाबले देखने को मिले , Teenage GMs नोदिरबेक अब्दुसत्तोरोव
और रौनक साधवानी ने अपने-अपने अनुभवी विरोधी जीएम बोरिस गेलफैंड और वेसेलिन टोपालोव  को
मुकाबले में मात दी , शतरंज के दो और दिग्गज जीएम विश्वनाथन आनंद और माइकल एडम्स भी अपने
मैचों में जीएम पावेल पोंकराटोव और डेविड नवारा से हार गए | 

 

युवा और अनुभवी पीढ़ी के बीच के मुकाबले में 17 वर्षीय वर्ल्ड रैपिड चैम्पीयन Abdusattorov ने Gelfand के
खिलाफ अपनी पहली जीत हासिल की , पीढ़ियों के बीच हुए दूसरे मैच में  16 वर्षीय रौनक साधवानी ने
वेसेलिन टोपालोव को मात दी और 2.5/3 अंक हासिल किए | दोनों युवाओं ने जिस तरह अपने अपने अनुभवी
विरोधियों को हराया वो देखने लयाक था , commenters भी दोनों players की काफी तारीफ करते हुए
दिखे |  commenter लेवी रोज़मैन ने कहा “लगता है की युवा पीढ़ी कुछ ज्यादा ही तेज़ है | 

 

 

 
दिन का  सबसे हैरान कर देने वाला मैच था  पोंक्रेटोव और आनंद था , जिस तरह ने पोंक्रेटोव  ने आनंद के
खिलाफ जीत हासिल की वो काफी प्रभावशाली थी , आनंद ने चौथा गेम जीतकर जैसे-तैसे मैच को आर्मगेडन
प्लेऑफ़ तक पहुंचाया और अगले round में  7 मिनट तक  महत्वाकांक्षी रूप से ब्लैक piece पर बोली लगाई
पर वो जीत नहीं पाए , ये दिन का सबसे चर्चित मैच था | 

 

 

पूर्व चैम्पीयन आनंद अपनी शानदार रैपिड स्किल्स के लिए जाने जाते है पर इस मैच में पहले ही knockout
स्टेज में उन्हें eliminate होते हुए देखना काफी आश्चर्यजनक था पर  पोंक्रेटोव  काफी क्रिएटिव और खतरनाक
खिलाड़ी है और वो किसी को भी मात दे सकते है , उनकी games देख कर कभी भी कोई बोर नहीं होता वो
इन्जॉय करते हुए अपने मैच खेलते है , और तो और इस मैच में ये भी साफ दिख रहा था की आनंद ने आर्मगेडन
में ब्लैक pieces के साथ कुछ ज्यादा ही समय गंवा दिया था | 

 

ये भी पढ़े:-https://thechesskings.com/why-hans-niemann-is-banned-from-chess-com/

Darshna Khudania
Darshna Khudaniahttps://thechesskings.com/
मैं शतरंज की प्रशंसक, शतरंज की खिलाड़ी और शतरंज की कहानियों की एक श्रृंखला की लेखक हूं। मैं लगभग 12 वर्षों से शतरंज खेल रही हूं और इसकी चुनौती, जटिलता और सुंदरता के लिए खेल के प्रति आकर्षित थी। मुझे यह एक पेचीदा खेल लगता है जिसके जीवन में विभिन्न अनुप्रयोग हैं। इसने मुझे एक व्यक्ति के रूप में विकसित होने में मदद की है और यह सीखा है कि कैसे अच्छे निर्णय लेने हैं जो मेरे जीवन के पाठ्यक्रम को बदल सकते हैं।

चेस्स न्यूज़ इन हिंदी

भारत शतरंज न्यूज़